GST के नियम में बड़ा बदलाव में बड़ा बदलाव, सभी दुकानदार व्यापारी को 1 मार्च से करना होगा ये जरूरी काम, वरना होगा भारी नुकसान

GST के नियम में बड़ा बदलाव में बड़ा बदलाव, सभी दुकानदार व्यापारी को 1 मार्च से करना होगा ये जरूरी काम, वरना होगा भारी नुकसान
GST New Rule 2024

GST New Rule 2024 – यदि आप व्यवसाय करने वाले दुकानदार या व्यापारी है तो आपके लिए बड़ी खबर निकल कर आ रहा है। बात दे की आप दुकान या फिर किसी भी प्रकार के बिजनेस कर रहे हैं तो यह खबर आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है अब सरकार द्वारा 50000 रुपए से ज्यादा सामान पर नए नियम लागू किया जा रहे हैं। 

श्रमिको को मिलेंगे 20000 रुपये ,देखे जानकारी

वहीं दुसरी बड़ी खबर यह है कि बिजनेस टू बिजनेस व्यापारीयों एवं कारोबारी के लिए GST संबंधित नियमों में बड़ी अपडेट लाई गई है। ऐसे में अगर आप दुकानदार है या कोई छोटा-मोटा व्यवसाय करने वाले एक व्यापारी है तो आज का यह पोस्ट आपके लिए लाभदायक होने वाला है तो आप पोस्ट में अंत तक बने रहें।

GST के नियम में बड़ा बदलाव, जानिए क्या है पूरी खबर

केंद्र सरकार के द्वारा GST के नियमों में 1 मार्च 2024 से बड़ा बदलाव किया जा रहा है। अब 5 करोड़ रुपए से अधिक व्यवसाय करने वाले कारोबारी बिना ई चालान के E Way Bill जनरेट नहीं कर पाएंगे। 

GST के नए नियम के अनुसार 50 हजार रुपए से अधिक मूल्य का सामान को एक राज्य से दूसरे राज्य तक ले जाने के लिए अब व्यापारियों को E Way Bill की आवश्यकता पड़ेगी। इस बिल के बिना ई वे चालान नहीं जनरेट किया जा सकेगा। बता दे कि यह नियम 1 मार्च 2024 से सभी व्यापारियों एवं छोटे बड़े दुकानदारों के लिए सभी के लिए लागू किया जाएगा। 

सरकार के द्वारा GST के नियमों में बदलाव का मुख्य कारण

सरकार के द्वारा GST के नियमों में बदलाव करने का मुख्य कारण हाल ही में National Informatics Center (NIC) ने पाया है कि वर्तमान समय में ऐसे कई टैक्स पेयर्स है जो  Business to Business और Business to Export ट्रांजैक्शन के लिए ई चालान के बिना ही ई विल जनरेट कर रहे हैं जो नियमों का उल्लंघन है।

कई बार पाया जाता है कि इन बिजनेस का इ विल और ई चालान मैच नहीं करता है। ऐसे में टेक्स्ट पेमेंट में पारदर्शिता लाने के लिए सरकार के द्वारा GST के नियमों में बदलाव किया जा रहा है। अब 1 मार्च 2024 के बाद सरकार के नए नियम के तहत सभी को  E Way Bill के लिए ई-चालान की जरूरी कर दिया जाएगा।  

1 मार्च 2024 के नए नियम के मुताबिक 5 करोड़ से भी ज्यादा व्यवसाय को बिजनेस टू बिजनेस लेनदेन के लिए ई चालान के बिना ई वे बिल जेनरेट का नाम करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। वही ई वे बिल के बिना 50000 से अधिक मूल्य के माल को एक राज्य से दूसरे राज्य तक परिवहन नहीं कर सकते हैं  

GST डिपार्मेंट के द्वारा इस संबंध में दिशा निर्देश जारी किए गए हैं ई वे विल जनरेट करने के लिए अब यह चीज जरुरी हो गया है। हालांकि आपको बता दे कि यह सारे नियम टैक्स पे करने वाले लोगों पर ही लागू होगा। इस पर ग्राहकों या किसी को अन्य कई तरह के ट्रांजैक्शन हेतु ई वे बिल पहले की तरह ही जनरेट किए जाएंगे।

GST के नियमों में 1 मार्च से बदले जाएंगे नियम check

NIC ने जीएसटी के टैक्स पेयर को आदेश जारी करते हुए कहा है कि अब बिना ई-चालान के ई वी बिल जनरेट नहीं कर पाएंगे। यह नियम पूरे भारत में 1 मार्च 2024 से लागू कर दिया जाएगा। यह नियम केवल ई चालान के पात्र टैक्स पेयर के लिए ही लागू होगा। 

वही NIC ने यह भी साफ कर दिया है कि ग्राहकों को और अन्य तरह के ट्रांजैक्शन के लिए इ वे विल जनरेट करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। ऐसे में इ वे विल पहले की तरह ही जनरेट होते रहेंगे। इसका मतलब यह निकलता है कि ग्राहकों को बदलते नियमों का कोई असर नहीं पड़ेगा यह नियम व्यवसाय करने वाले लोगों और व्यापारियों के लिए है।

Source