उपवास स्वास्थ्य युक्तियाँ इन बातों का ध्यान रखने से खत्म हो जाएगी कमजोरी और सिरदर्द gh ap – News18 गुजराती

उपवास स्वास्थ्य युक्तियाँ इन बातों का ध्यान रखने से खत्म हो जाएगी कमजोरी और सिरदर्द gh ap – News18 गुजराती
नवरात्रि स्वास्थ्य युक्तियाँ: हर किसी की शारीरिक क्षमता अलग होती है। अगर कुछ लोग लंबे समय तक खाना नहीं खाते हैं तो भी उनकी सेहत पर ज्यादा असर नहीं पड़ता है। कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिन्हें थोड़ी देर उपवास करने पर भी सिर दर्द, चक्कर आना और उल्टी होने लगती है। इस प्रकार की (फास्ट इफेक्ट हेल्थ) समस्या क्यों होती है, यह जानना जरूरी है।

व्रत के दौरान कम पानी पीने से इस प्रकार की समस्या हो जाती है। इसलिए व्रत के दौरान पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन करना चाहिए। पानी के अलावा छाछ, दही, लस्सी, नींबू पानी, फलों के रस का सेवन करने से कमजोरी नहीं आती है। व्रत के दौरान अधिक से अधिक तरल पदार्थों का सेवन करना चाहिए। तरल पदार्थों का सेवन शरीर को हाइड्रेट रखता है। सही मात्रा में पानी पीने से शरीर से विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं। फलों के जूस का सेवन करने से पेट साफ रहता है और आप स्वस्थ रहते हैं। विटामिन ए, बी और सी से भरपूर फलों और सब्जियों का जूस पीने से आप पूरे दिन ऊर्जावान रहते हैं।

डायटीशियन के अनुसार व्रत के दौरान भोजन की कमी को पूरा करने के लिए संतुलित आहार लेना बहुत जरूरी है। ज्यादा तला-भुना, नमकीन या बिना नमक वाला खाना खाने से ब्लड प्रेशर कम होता है, जिससे शुगर या वजन बढ़ने जैसी समस्या होती है।

यह भी पढ़ें:-वडोदरा मेहंदी हत्याकांड : पुलिस ने फ्लैट में निकाला हिना का शव, करना पड़ा पैकअप

उपवास के दौरान फिट रहने के लिए आपको उचित आहार बनाने की जरूरत है। व्रत में फिट रहने के लिए सूर्यास्त से पहले भारी भोजन करना चाहिए। पूरे दिन हल्का लेकिन स्वस्थ नाश्ता करना चाहिए। बहुत से लोग व्रत में आलू के चिप्स का सेवन करते हैं, लेकिन ज्यादा तले हुए भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए। प्रोटीन युक्त आहार का सेवन करना चाहिए।

यह भी पढ़ें:-हे भगवान! पालतू कुत्ते ने डॉक्टर के सामने उल्टी कर दी, और मालिक ने उसके पेट से कुछ निगल लिया

कुछ लोग उपवास में स्वस्थ रहने के लिए भारी व्यायाम करते हैं, जिससे आपको थकान महसूस होती है। इस कारण भारी व्यायाम नहीं करना चाहिए। भारी व्यायाम करने से हाइपोग्लाइसीमिया का खतरा होता है। आप सुबह पार्क में टहलने जा सकते हैं। योग, मेडिटेशन करने से आप मानसिक रूप से स्वस्थ रहते हैं।

यह भी पढ़ें:-शिवांश केस: शोरूम में सचिन और मेहंदी की मुलाकात के बाद फैला प्यार, प्यार से लेकर ‘पाप’ तक की कहानी

व्रत के दौरान स्वस्थ रहने के उपाय
व्रत के समय तला हुआ भोजन तब तक नहीं खाना चाहिए जब तक कि वह सूख न जाए। ऐसा इसलिए क्योंकि इससे पेट संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।
विभिन्न प्रकार के सूखे मेवों का कम मात्रा में सेवन करें।
सिंधव नमक का सेवन भी सीमित मात्रा में ही करना चाहिए।
व्रत के दौरान एक ही समय में भर पेट खाने की कोशिश नहीं करनी चाहिए, क्योंकि यह पाचन प्रक्रिया को खराब कर सकता है।
व्रत के दौरान फलों का सेवन करना चाहिए। फल खाने से शरीर को कुछ जरूरी पोषक तत्व मिलते हैं और पेट भी भरता है। पपीता, अनानास,
सेब और केला जैसे फल फाइबर से भरपूर होते हैं और शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं। व्रत में फलों का अधिक सेवन करना चाहिए।
दही, दूध का रायतु एक ऐसा भोजन है जो आसानी से पच जाता है और स्वस्थ भी होता है। इसका सेवन व्रत में किया जा सकता है।
चाय का अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए। दिन में केवल दो से तीन कप चाय ही पी जा सकती है।
व्रत के दौरान उबले आलू, रमजान, शिंगौदा-कुट्टू का आटा, खीरा, दूध, बीन और मूंगफली के दाने, साबूदाना फराली पकवान का सेवन
सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है।
सुबह उठकर ज्यादा देर तक भूखे रहने से एसिडिटी और लो ब्लड प्रेशर जैसी समस्याएं हो सकती हैं। रोजा के दौरान सुबह चाय के बाद छाछ, दही, सलाद, फल का सेवन करने से शरीर को ऊर्जा मिलती है।

.

Source